राष्ट्रीय अंतर्विषयी विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी संस्थान

वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद्ü भारत, तिरुवनंतपुरम

r&dsupport

अनुसंधान एवं विकास समर्थन

 

एनआईआईएसटी की अनुसंधान गतिविधियॉ प्रशासन के समर्पित कर्मचारियों द्वारा पूरी तरह से समर्थित हैं।

आर एंड डी के पूर्ण समर्थन साथ, वर्ष 2009-10 के दौरान एनआईआईएसटी ने परियोजनाओं की एक विस्तृत श्रृंखला का निष्पादन किया और सकारात्मक वृद्धि की प्रवृत्ति को बनाया रखा। संस्थान की अनुसंधान एवं विकास गतिविधियों के परिणामस्वरूप 203 अनुसंधान प्रकाशनों, 8 भारतीय पेटेंटों तथा 9 विदेशी पेटेंटों दाखिल किए गए। ईसीएफ के रूप में 706.794 लाख रुपये प्राप्त हुए । संस्थान ने इस प्रकार उच्च गुणवत्ता वाले शोधपत्र प्रकाशन की अपनी अच्छी प्रवृत्ति को बनाए रखा और कई प्रतिष्ठित पत्रिकाओं के कवर पेज में संस्थान के प्रकाशनों को हाइलाइट किया गया । निस्केयर द्वारा हाल ही में किए गए एक अध्ययन से पता चला है कि 2008 के दौरान, एनआईआईएसटी ने सीएसआईआर संस्थानों के रसायन विज्ञान समूह के बीच प्रति शोधपत्र उच्चतम औसत प्रभाव कारक (2.71) और प्रति वैज्ञानिक द्वारा प्रकाशित कागजात के लिए उच्चतम मूल्य (3.12) हासिल किया है । इस वित्तीय वर्ष के दौरान नौ नेटवर्क, 81 अनुबंध अनुसंधान, 21 परामर्श और 5 प्रमुख इन- हाउस परियोजनाएं प्रारंभ किए गए थे। वर्ष 2009 और 2010 में यह स्थिर वृद्धि में और सुधार हुआ है ।